Sunday, May 19, 2024
Home प्रदेश अंबिकापुर-बरवाडीह रेल लाइन का हुआ अंतिम सर्वे, स्वीकृति के लिए मंत्रालय भेजी...

अंबिकापुर-बरवाडीह रेल लाइन का हुआ अंतिम सर्वे, स्वीकृति के लिए मंत्रालय भेजी गई फाइल….

देश के सबसे ज्यादा स्पीड वाले रेल खंडों में से अंबिकापुर-बरवाडीह नई ब्रॉड गेज डबल रेल लाइन का अंतिम सर्वे कार्य पूर्ण कर लिया गया है। सर्वे कार्य पूर्ण होने बाद अब रेलवे मंत्रालय के पास स्वीकृति हेतु भेजा गया है। जानकारी के अनुसार अंबिकापुर-बरवाडीह नई ब्रॉड गेज डबल रेल लाइन (199.98) किलोमीटर सरगुजा और बलरामपुर जिलों के अलावा झारखंड राज्य में गढ़वा, पलामू और लातेहार जिले को कवर करेगी। इस रेल लाइन का 134.1 किलोमीटर हिस्सा छत्तीसगढ़ में और 65.88 किलोमीटर हिस्सा झारखंड में पड़ेगा।

अंबिकापुर। देश के सबसे ज्यादा स्पीड वाले रेल खंडों में से अंबिकापुर-बरवाडीह नई ब्रॉड गेज डबल रेल लाइन का अंतिम सर्वे कार्य पूर्ण कर लिया गया है। सर्वे कार्य पूर्ण होने बाद अब रेलवे मंत्रालय के पास स्वीकृति हेतु भेजा गया है। जानकारी के अनुसार अंबिकापुर-बरवाडीह नई ब्रॉड गेज डबल रेल लाइन (199.98) किलोमीटर सरगुजा और बलरामपुर जिलों के अलावा झारखंड राज्य में गढ़वा, पलामू और लातेहार जिले को कवर करेगी। इस रेल लाइन का 134.1 किलोमीटर हिस्सा छत्तीसगढ़ में और 65.88 किलोमीटर हिस्सा झारखंड में पड़ेगा। अंबिकापुर-बरवाडीह रेल लाइन का हुआ अंतिम सर्वे, स्वीकृति के लिए मंत्रालय भेजी गई फाइल परियोजना के पूर्ण होने की अवधि 5 वर्ष निर्धारित की गई है। नए रेल लिंक के निर्माण की लागत करीब दस हजार करोड़ रुपए बताई जा रही है। इस रेल खंड पर ट्रेनों की अधिकतम स्वीकृत गति 130 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। सेक्शन के अन्य खंडों की तुलना में यह अधिक गति वाला रेल खंड होगा। यह भारत के सबसे ज्यादा स्पीड वाले रेल खंडों में से एक होगा। अंबिकापुर-अनूकपुर रेल खंड में यह सेक्शन शामिल होगा। वर्तमान में 95 किलोमीटर प्रति घंटे की गति वाला सेक्शन है, जबकि झारखंड में बरवाडीह गढ़वा, सोननगर खंड 10 किलोमीटर प्रति घंटे की गति वाला है। इस रेल लाइन को लेकर खास बात यह है कि इसे भारत की आजादी से पहले मंजूरी दी गई थी। इस परियोजना को वर्ष 1947 में स्वीकृत किया गया था। शुरुआत में सरनाडीह से बरवाडीह (79.4 किलोमीटर) तक रेल लाइन का निर्माण 1947 में रेलवे बोर्ड द्वारा स्वीकृत किया गया था। इसका निर्माण कार्य वर्ष 1947 में शुरू कर दिया गया था। बरवाडीह से सरनाडीह तक कुछ पुलों को बनाने समेत कुछ निर्माण कार्य पूरा हो गया था। जानकारी के मुताबिक वर्ष 1950 में इस रेल लाइन का निर्माण कार्य बंद कर दिया गया था। इसके बाद इस आदिवासी इलाके को गुमनामी में छोड़ दिया गया था। बताया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ और झारखंड में पडऩे वाला यह इलाका अत्यधिक अविकसित है, शेष भारत से इसकी कनेक्टिविटी भी बहुत खराब है। यह रेल लिंक कोयला ब्लॉक्स को भी कनेक्टिविटी उपलब्ध कराएगा।

आर्थिक गतिविधियों में होगी बढ़ोतरी

अंबिकापुर-बरवाडीह रेल लाइन के निर्माण से आर्थिक गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी। इस क्षेत्र के बाक्साइट, ग्रेफाइट, लौह अयस्क जैसे खनिजों की पूरे देश में मांग है। रेल लिंक से जुड़ जाने पर पूरे देश में खनिजों की उपलब्धता की जा सकेगी। बरवाडीह रेल लिंक से पश्चिम के यातायात हेतु वैकल्पिक कनेक्टिविटी मिलेगी। यह रेल लाइन गया, मुगलसराय जंक्शन, पटना स्टेशनों को बरवाडीह रेल रूट के माध्यम से दक्षिण व पश्चिम दिशा के यातायात के लिए वैकल्पिक कनेक्टिविटी प्रदान करेगी। अंबिकापुर-बरवाडीह के सर्वे में 5 वर्ष की अवधि में इसका निर्माण कार्य पूरा करने की बात का उल्लेख किया गया है।

RELATED ARTICLES

श्रेय सिंह का चयन हुआ जवाहर नवोदय विद्यालय में….

बलरामपुर। जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा वर्ष 2024 का परिणाम रविवार को जारी हुआ, जिसमें वार्ड नंबर 5 बलरामपुर के निवासी मुकेश...

बलरामपुर नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष प्रवीण गुप्ता उर्फ बाबू बनाए गए मीडिया प्रभारी…..

बलरामपुर नगर के वार्ड क्रमांक 9 निवासी प्रवीण गुप्ता बाबू को भारतीय जनता पार्टी पर्यावरण प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक के निर्देश पर...

Balrampur–छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया गया….

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन बलरामपुर के द्वारा जिले में नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर आत्मीय स्वागत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

श्रेय सिंह का चयन हुआ जवाहर नवोदय विद्यालय में….

बलरामपुर। जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा वर्ष 2024 का परिणाम रविवार को जारी हुआ, जिसमें वार्ड नंबर 5 बलरामपुर के निवासी मुकेश...

बलरामपुर नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष प्रवीण गुप्ता उर्फ बाबू बनाए गए मीडिया प्रभारी…..

बलरामपुर नगर के वार्ड क्रमांक 9 निवासी प्रवीण गुप्ता बाबू को भारतीय जनता पार्टी पर्यावरण प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक के निर्देश पर...

Balrampur–छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया गया….

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन बलरामपुर के द्वारा जिले में नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर आत्मीय स्वागत...

बलरामपुर CGTA के प्रतिनिधिमंडल ने जिला शिक्षा अधिकारी से मिलकर जल्द पदोन्नती प्रक्रिया मांग लेकर ज्ञापन सौपा…

आज CGTA का एक प्रतिनिधिमंडल DEO मैडम श्रीमती आशा रानी टोप्पो (बलरामपुर) से सौजन्य मुलाकात कर जिले में सहायक शिक्षक से प्रधानपाठक...

Recent Comments