Sunday, May 19, 2024
Home प्रदेश इन तीन सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त मे बहने अपने सुविधा अनुसार भाइयों के कलाई...

इन तीन सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त मे बहने अपने सुविधा अनुसार भाइयों के कलाई पर राखी बांध सकते हैं……..

बलरामपुर/ इस बार रक्षाबंधन का त्यौहार पिछले कुछ वर्ष की भांति फिर दो दिन मनाया जाएगा और भाइयों को राखी बंधवाने के लिए एवं बहनों को राखी बांधने के लिए लंबी अवधि का इंतजार करना पड़ेगा और सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त भी 2 घंटे 3 मिनट का रहेगा क्योंकि रक्षाबंधन के तिथि के दिन ही सुबह से ही भद्रा का सयोग लग जा रहा है।

इसलिए इस बार रक्षाबंधन का त्यौहार 30 अगस्त या 31 अगस्त को मनाया जाए को लेकर सयंस स्थिति निर्मित हो रही है दिनांक 30 अगस्त 2023 को सुबह 10:13 से पूर्णिमा तिथि लागू हो रही है जो 31 अगस्त के सुबह 7:46 तक रहेगी सो पौराणिक नियम अनुसार उक्त अवधि में रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया जाता लेकिन जैसे ही 30 अगस्त को पूर्णिमा तिथि चढ़ रही है वैसे ही भद्रा का प्रकोप सुबह 10:13 से ही लागू हो जा रही है जो रात को 8:57 तक रहेगी इसलिए 30 अगस्त को सुबह से लेकर के रात्रि 8:57 तक बहनें भाइयों के कलाई पर रक्षाबंधन नहीं बांध सकेगी। नगर के ज्योतिषी पंडित जितेंद्र तिवारी ने इस विषय में बताया कि इस बार रक्षाबंधन की पूर्णिमा तिथि के दिन भद्रा काल का प्रकोप हो जाने के वजह से मुहूर्त को लेकर के लोगों में काफी सयंस की स्थिति है की राखी का त्यौहार किस दिन मनाया जाए उन्होंने आगे बताया कि 30 अगस्त को पूर्णिमा तिथि से लेकर के रात्रि 8:57 तक भद्रा काल रहेगी जो रक्षाबंधन के लिए सर्वत्र वर्जित है इसलिए रक्षाबंधन मुहूर्त के हिसाब से ही करें अन्यथा इसका अनिष्ट प्रभाव हो सकता है। प्रथम सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त 31 अगस्त की सुबह 5:43 से लेकर सुबह 7:46 तक रहेगी द्वितीय सर्वश्रेष्ठ 30 अगस्त को रात्रि 8:57 से लेकर मध्य रात्रि 12:00 बजे रात तक रहेगी तृतीय सर्व श्रेष्ठ मुहूर्त 31 अगस्त की सुबह 7:46 से लेकर सायं 6:17 तक रहेगी इन तीन सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त मे बहने अपने सुविधा अनुसार भाइयों के कलाई पर राखी बांध सकते हैं बताएं मुहूर्त अनुसार 31 अगस्त को दिन भर रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया जा सकता है इसमें किसी प्रकार की अनिष्ट एवं संदेह की स्थिति नहीं है।

कब से प्रचलित हुआ रक्षाबंधन का त्यौहार = पौराणिक कथा के अनुसार असुरों के राजा बलि सैकड़ो यज्ञ करने के बाद शक्तिशाली होकर देवराज इंद्र के इंद्रासन पर हमला बोल दिया जिससे देवराज इंतजाम उसकी पत्नी घबरा गई और रक्षा के लिए भगवान विष्णु के पास आती है भगवान विष्णु रक्षा का वचन देकर वामन अवतार के द्वारा राजा बलि के यहां जाते हैं और राजा बलि से तीन पग जमीन मांगते हैं दो पग जमीन देने के बाद तीसरा राजा बलि अपने सर पर रखवाते हैं यार उन्हें बाद में ज्ञान हो जाता है कि यह समान पुरुष नहीं बल्कि भगवान नारायण है तब भगवान बोलते हैं हम तुम पर प्रसन्न हैं जो मांगना चाहते हो मांगो तब राजा बलि भगवान से कहते हैं आप हमारे राज दरबार के पहरेदार बनिए भगवान तथास्तु कह करके दरबार मैं पहरेदार बन जाते हैं बहुत दिन होने के बाद भी वापस नहीं लौटते हैं तो उनकी पत्नी लक्ष्मी व्याकुल हो जाती है और राजा बलि के पास पहुंचती है हां राजा बलि को भाई बना कर रक्षा सूत्र बनती है और बदले में अपने पति विष्णु को मांगती है और वापस लेकर जाती है जिस दिन यह घटना हुआ उसे दिन श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि थी तभी से लेकर आज पर्यंत तक रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया जाता है और इसीलिए रक्षा सूत्र बांधते समय ऐन बंधु बलि राजा आदि मंत्रों का उच्चारण करते हैं।

भद्रा काल में क्यों नहीं बनना चाहिए राखी= पौराणिक कथा अनुसार लंका के राजा रावण की बहन रावण को रक्षाबंधन के दिन अनजाने में भद्रा काल के समय ही राखी बांधी थी कहते हैं कि रावण की बहन ने रावण को जिस दिन राखी बांधी उसी दिन राम के द्वारा रावण का वध हुआ था इसलिए भद्रा काल को रक्षाबंधन के कार्य में अनिष्ट कारक मानते हैं और इस काल में रक्षाबंधन का कार्य नहीं करते हैं।

सभी जानकारी जितेंद्र तिवारी के द्वारा दिया गया….

RELATED ARTICLES

श्रेय सिंह का चयन हुआ जवाहर नवोदय विद्यालय में….

बलरामपुर। जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा वर्ष 2024 का परिणाम रविवार को जारी हुआ, जिसमें वार्ड नंबर 5 बलरामपुर के निवासी मुकेश...

बलरामपुर नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष प्रवीण गुप्ता उर्फ बाबू बनाए गए मीडिया प्रभारी…..

बलरामपुर नगर के वार्ड क्रमांक 9 निवासी प्रवीण गुप्ता बाबू को भारतीय जनता पार्टी पर्यावरण प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक के निर्देश पर...

Balrampur–छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया गया….

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन बलरामपुर के द्वारा जिले में नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर आत्मीय स्वागत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

श्रेय सिंह का चयन हुआ जवाहर नवोदय विद्यालय में….

बलरामपुर। जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा वर्ष 2024 का परिणाम रविवार को जारी हुआ, जिसमें वार्ड नंबर 5 बलरामपुर के निवासी मुकेश...

बलरामपुर नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष प्रवीण गुप्ता उर्फ बाबू बनाए गए मीडिया प्रभारी…..

बलरामपुर नगर के वार्ड क्रमांक 9 निवासी प्रवीण गुप्ता बाबू को भारतीय जनता पार्टी पर्यावरण प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक के निर्देश पर...

Balrampur–छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया गया….

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन बलरामपुर के द्वारा जिले में नवपदस्थ जिला शिक्षा अधिकारी डॉ डी.एन. मिश्रा का गुलदस्ता भेंट कर आत्मीय स्वागत...

बलरामपुर CGTA के प्रतिनिधिमंडल ने जिला शिक्षा अधिकारी से मिलकर जल्द पदोन्नती प्रक्रिया मांग लेकर ज्ञापन सौपा…

आज CGTA का एक प्रतिनिधिमंडल DEO मैडम श्रीमती आशा रानी टोप्पो (बलरामपुर) से सौजन्य मुलाकात कर जिले में सहायक शिक्षक से प्रधानपाठक...

Recent Comments